Tag: poems

घर से घर तक

पच्चीस दिन बीत गए | सिंगापुर से दिल्ली, दिल्ली से छपरा, वहां से बेगूसराय, वहां से पटना और फिर दिल्ली – आज दिल्ली से सिंगापुर – ये बीता महीना काफ़ी…

Goodbyes Are A Tradition Now

I used to feel sad and emotional about goodbyes. Going from my In-Laws’ to my Mom’s, from my Husband’s to my Father’s or from my Brother’s to my Grandparents’ –…

बस यूँ ही

तो एक और सफ़र ख़त्म हुआ… इस बार कई वर्ष बाद माँ के साथ लगभग बीस दिन रही… सिंगापुर से लेकर बेगूसराय तक का ये सफ़र बहुत ख़ूबसूरत रहा.. इस…